इतिहास

Vijay Stambh photo

Vijay Stambh, विजय स्तंभ चित्तौड़गढ़- निर्माण और इतिहास.

विजय स्तम्भ का इतिहास (Vijay Stambh History In Hindi):- Vijay Stambh राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले में स्थित एक ऐतिहासिक इमारत है. जिसका निर्माण 1440 ईस्वी से लेकर 1448 ईस्वी के मध्य मेवाड़ के राजा महाराणा कुंभा ने करवाया था. विजय स्तंभ के निर्माण के पीछे मुख्य वजह थी मेवाड़ की ऐतिहासिक जीत. भगवान विष्णु को …

Vijay Stambh, विजय स्तंभ चित्तौड़गढ़- निर्माण और इतिहास. Read More »

nana saheb history and biography in hindi

नाना साहेब का इतिहास (Nana Saheb):- जीवन परिचय.

Nana Saheb history in hindi:- नाना साहेब (Nana Saheb) महान स्वतंत्रता सेनानी और प्रभावशाली मराठा शासक थे. स्वतंत्रता सेनानी नाना साहब 1857 की क्रांति में अपने अभूतपूर्व योगदान की बदौलत विश्व विख्यात हैं. नाना साहब को नाना धुंधुपंत के नाम से भी जाना जाता हैं. महान मराठा छत्रपति शिवाजी महाराज और संभाजी महाराज के बाद …

नाना साहेब का इतिहास (Nana Saheb):- जीवन परिचय. Read More »

Tatya Tope History In Hindi

तात्या टोपे का इतिहास और जीवन परिचय (Tatya Tope History In Hindi).

तात्या टोपे का इतिहास और जीवन परिचय (Tatya Tope History In Hindi):- तात्या टोपे का जीवन परिचय (Tatya Tope Biography) शुरू होता हैं आज से लगभग 208 साल पहले. तात्या टोपे का जन्म महाराष्ट्र के नासिक जिले में सन 1814 ईस्वी में हुआ था. तात्या टोपे का मूल या वास्तविक नाम रामचंद्र पांडुरंग येवलकर था, …

तात्या टोपे का इतिहास और जीवन परिचय (Tatya Tope History In Hindi). Read More »

Fort In Jaipur

Fort In Jaipur (जयपुर में किले).

Fort In Jaipur (जयपुर में किले):- जयपुर एक ऐतिहासिक शहर हैं जिसे पिंक सिटी के नाम से भी जाना जाता हैं. अपने स्वर्णिम इतिहास और प्राकृतिक सौंदर्य की वजह से यह विश्व विख्यात हैं. जयपुर में मुख्य रूप से 3 ऐतिहासिक किले हैं जो जयपुर की महानता का गुणगान करते हुए सीना तान कर खड़े …

Fort In Jaipur (जयपुर में किले). Read More »

History Of Hindi Language

History Of Hindi Language, हिंदी भाषा का इतिहास.

[ History Of Hindi Language In Hindi , हिंदी भाषा का इतिहास]– हमारा इतिहास हिंदी भाषा से हैं लेकिन हिंदी भाषा के इतिहास की बात की जाए तो यह 1000 वर्षों से भी अधिक प्राचीन हैं. हिंदी का इतिहास और कालखंड अतिप्राचीन हैं. “वैदिक विश्व राष्ट्र का इतिहास” नामक पुस्तक से ज्ञात होता है कि …

History Of Hindi Language, हिंदी भाषा का इतिहास. Read More »

History Books In Hindi

History Books In Hindi- इतिहास की सबसे अच्छी 15 किताबें.

History Books In Hindi:- प्रत्येक व्यक्ति को अपना गौरवशाली इतिहास जरूर जानना चाहिए ताकि हम अपनी संस्कृती, इतिहास, रहन सहन का तरीका और अपने पूर्वजों के बारे में जान सके. इतिहास को जानने का मुख्य स्त्रोत किताबे होती हैं लेकिन यह एक मुश्किल काम है कि वो कौनसी अच्छी किताबें हैं जो हमारे स्वर्णिम और …

History Books In Hindi- इतिहास की सबसे अच्छी 15 किताबें. Read More »

who is the father of history in hindi

इतिहास का जनक:- Who Is The Father Of History In Hindi?

Who Is The Father Of History In Hindi:- यूनानी इतिहासकार हिरोडोटस को इतिहास का जनक कहा जाता हैं. इतिहास के जनक या इतिहास के पिता (Father of History) हिरोडोटस, इतिहासकार के साथ-साथ भूगोलवेत्ता भी थे. इन्हें हरिदत्त नाम से भी जाना जाता हैं. विश्व में सबसे पहले “हिस्ट्रीज” शब्द का प्रयोग इन्होंने ही किया था. …

इतिहास का जनक:- Who Is The Father Of History In Hindi? Read More »

गुर्जर प्रतिहार वंश की उत्पत्ति

गुर्जर प्रतिहार वंश की उत्पत्ति- सम्पूर्ण जानकारी.

गुर्जर प्रतिहार वंश की उत्पत्ति छठी शताब्दी में हुई थी. नागभट्ट प्रथम को गुर्जर प्रतिहार वंश का संस्थापक माना जाता है. वहीं दूसरी तरफ गुर्जर प्रतिहार वंश की उत्पत्ति दक्षिण पश्चिम राजस्थान और गुजरात में हुई थी. गुर्जर प्रतिहार वंश गुर्जरों की ही एक शाखा हुआ करते थे. प्रतिहार वंश के अभिलेखों में इस वंश …

गुर्जर प्रतिहार वंश की उत्पत्ति- सम्पूर्ण जानकारी. Read More »

गुर्जर प्रतिहार वंश की कुलदेवी

गुर्जर प्रतिहार वंश की कुलदेवी.

गुर्जर प्रतिहार वंश की कुलदेवी माता चामुण्डा हैं. इस वंश का इतिहास इस बात का गवाह हैं कि, माता की असीम कृपा से इस वंश के राजा युद्ध से पहले मां का आशीर्वाद लेकर युद्धभूमि में जाते थे. प्रतिहार वंश को ही गुर्जर प्रतिहार वंश के नाम से जाना जाता हैं. दक्षिण पश्चिम राजस्थान और …

गुर्जर प्रतिहार वंश की कुलदेवी. Read More »

pushpak viman ptoto

पुष्पक विमान (Pushpak Viman)- सम्पूर्ण इतिहास.

पुष्पक विमान (Pushpak Viman)- पुष्पक विमान का नाम सुनते ही रावण की याद आ जाती है. रामायण काल में पुष्पक विमान लंकापति रावण के पास था. रावण से पहले यह विमान कुबेर के पास था लेकिन कालांतर में रावण ने पुष्पक विमान कुबेर से छीन लिया. पुष्पक विमान के रचियता विश्वकर्मा थे. कुबेर रावण के …

पुष्पक विमान (Pushpak Viman)- सम्पूर्ण इतिहास. Read More »