धार्मिक इतिहास

मकर संक्रांति:- मनाने का कारण, इतिहास और 10 महत्त्व.

मकर संक्रांति मनाने का कारण और महत्त्व:- मकर सक्रांति मुख्य हिंदू त्यौहार है, जो हर साल सूर्य के दक्षिणायन से उत्तरायण में प्रवेश करने के दिन मनाया जाता हैं. मकर सक्रांति का त्योहार ज्यादातर 14 जनवरी को ही मनाया जाता है लेकिन कभी-कभी तिथि के अनुसार इसमें एक आध दिन ऊपर नीचे हो सकता है. …

मकर संक्रांति:- मनाने का कारण, इतिहास और 10 महत्त्व. Read More »

tanot mata mandir

तनोट माता मंदिर इतिहास (Tanot Mata Mandir History In Hindi)

तनोट माता मंदिर इतिहास (Tanot Mata Mandir History In Hindi):- तनोट माता का मन्दिर (Tanot Mata Mandir) राजस्थान के जैसलमेर जिले में तनोट नामक गांव में स्थित हैं. तनोट माता के मंदिर को “तनोट राय मातेश्वरी” के नाम से भी जाना जाता हैं. तनोट माता का इतिहास बताता है कि मामडिया नामक चारण की बेटी …

तनोट माता मंदिर इतिहास (Tanot Mata Mandir History In Hindi) Read More »

Panchvati History In Hindi

पंचवटी (रामायण)- Panchvati History In Hindi.

पंचवटी (रामायण)- Panchvati History In Hindi:- पंचवटी रामायण कालीन वह स्थान है जहां पर भगवान श्री राम अपने भाई लक्ष्मण जी और माता सीता के साथ वनवास के दौरान काफी समय तक रुके थे. पंचवटी महाराष्ट्र के नासिक जिले में गोदावरी नदी के निकट स्थित एक बहुत ही प्राचीन और विश्व विख्यात पौराणिक स्थान है. …

पंचवटी (रामायण)- Panchvati History In Hindi. Read More »

diggi kalyan ji history in hindi

डिग्गी कल्याण जी का इतिहास और कथा, (Diggi Kalyan Ji History In Hindi)

डिग्गी कल्याण जी का इतिहास और कथा, (Diggi Kalyan Ji History In Hindi)- डिग्गी कल्याण जी को श्री कल्याण मन्दिर के नाम से भी जाना जाता हैं. डिग्गी कल्याण जी का मंदिर डिग्गी नामक कस्बे में मालपुरा तहसील जो कि राजस्थान के टोंक जिले में स्थित हैं. डिग्गी कल्याण जी को भगवान विष्णु का अवतार …

डिग्गी कल्याण जी का इतिहास और कथा, (Diggi Kalyan Ji History In Hindi) Read More »

Guru Purnima kyon manae jaati hai

गुरु पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है?(Guru Purnima kyon manae jaati hai) पढ़ें पूरी कथा.

 गुरु पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है (Guru Purnima kyon manae jaati hai) इसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. आषाढ़ शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का पर्व संपूर्ण भारतवर्ष में मनाया जाता है. भारत एक आध्यात्मिक गुरु के रूप में विश्व विख्यात है तथा सहस्त्र वर्षों से भारत में गुरुओं को एक …

गुरु पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है?(Guru Purnima kyon manae jaati hai) पढ़ें पूरी कथा. Read More »

खाटू श्याम को हारे का सहारा क्यों कहते हैं? (Khatu Shyam ko haare ka Sahara kyon kahte hai).

क्या आप जानते हैं कि खाटू श्याम को हारे का सहारा क्यों कहते हैं? (Khatu Shyam ko haare ka Sahara kyon kahte hai) इसके पिछे एक पौराणिक मान्यता है. यह महाभारत के समय की बात है, कौरव और पांडव के बिच में धर्म युद्ध प्रारम्भ होने वाला था. विश्व भर के बड़े बड़े राजा-महाराजा अपनी …

खाटू श्याम को हारे का सहारा क्यों कहते हैं? (Khatu Shyam ko haare ka Sahara kyon kahte hai). Read More »

रथ यात्रा के पीछे की कहानी क्या है? (Rath Yatra ke Piche ki Kahani)- पढ़ें सम्पूर्ण जानकारी.

Rath Yatra ke Piche ki Kahani- पुरी में भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा विश्व भर में प्रसिद्ध है लेकिन यह बहुत कम लोग जानते हैं कि रथ यात्रा के पीछे की कहानी क्या है? (Rath Yatra ke Piche ki Kahani). भारत में दो जगह रथ यात्रा निकाली जाती हैं एक उड़ीसा के जगन्नाथपुरी जिसे पूरी …

रथ यात्रा के पीछे की कहानी क्या है? (Rath Yatra ke Piche ki Kahani)- पढ़ें सम्पूर्ण जानकारी. Read More »

Badrinath Me Shankh Kyon Nahi Bajaya Jata Hain

बद्रीनाथ में शंख क्यों नहीं बजाया जाता? (Badrinath Me Shankh Kyon Nahi Bajaya Jata Hain).

हम पढ़ेंगे Badrinath Me Shankh Kyon Nahi Bajaya Jata Hain. भारत को रहस्यों का देश कहा जाए तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी. भारत के सभी मंदिरों में शंख बजाया जाता है लेकिन बद्रीनाथ एक ऐसा मंदिर है जहां पर शंख नहीं बजाया जाता. भगवान विष्णु को शंख अतिप्रिय होने के बावजूद भी ऐसी क्या …

बद्रीनाथ में शंख क्यों नहीं बजाया जाता? (Badrinath Me Shankh Kyon Nahi Bajaya Jata Hain). Read More »

Martand Surya Mandir History In Hindi

मार्तंड सूर्य मंदिर का इतिहास (Martand Surya Mandir History In Hindi).

मार्तंड सूर्य मंदिर का इतिहास (Martand Surya Mandir History In Hindi) आज से लगभग 1400 वर्ष पुराना है. इसका निर्माण 7वीं और 8वीं सदी के मध्य किया गया था. कश्मीर का मार्तंड सूर्य मंदिर उत्तर भारत का एक मात्र सूर्य मंदिर है. मार्तंड का अर्थ होता हैं सुर्य अर्थात् सूर्य का पर्यायवाची शब्द है मार्तंड. उस …

मार्तंड सूर्य मंदिर का इतिहास (Martand Surya Mandir History In Hindi). Read More »

Dhanteras kyo manate Hain

धनतेरस क्यों मनाते हैं? (Dhanteras kyo manate Hain) पढ़ें इसके पिछे की असली कहानी और इतिहास।

धनतेरस क्यों मनाते हैं (Dhanteras kyo manate Hain) या धनतेरस मानने के पीछे क्या वजह है, यह जानने से पहले आपको बता दें कि प्रतिवर्ष कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस पर्व मनाया जाता हैं। धनतेरस (Dhanteras) दीपवाली से 2 दिन पूर्व आती है। धनतेरस (Dhanteras) के दिन भगवान धनवंतरी अमृत …

धनतेरस क्यों मनाते हैं? (Dhanteras kyo manate Hain) पढ़ें इसके पिछे की असली कहानी और इतिहास। Read More »