चन्द्रगुप्त मौर्य और हेलिना की शादी की वजह

इतिहास की सबसे रहस्यमई घटनाओं में से एक हैं चन्द्रगुप्त मौर्य और हेलिना की शादी लेकिन यह बहुत ही कम लोग जानते होंगे की आखिर चन्द्रगुप्त ने हेलिना से शादी क्यों की?

चन्द्रगुप्त ने हेलिना से शादी क्यों की?

दोस्तों जैसा की आप जानते हैं हेलिना के पिता का नाम सेल्यूकस निकेटर था जो की  सिकंदर की सेना के प्रमुख यूनानी कमाण्डर थे. अब आप सोच रहे होंगे की आखिर ऐसी क्या वजह रही जिसके चलते दुश्मनों की बेटी से चन्द्रगुप्त को विवाह करना पड़ा? तो आपको बता दें कि  इस शादी के पीछे महान राजनीतिज्ञ चाणक्य का दिमाग था. हेलिना का विवाह पहले सेंड्रोकोटोस के साथ हुआ था लेकिन हेलिना की भारतीय सभ्यता में गहरी रूचि थी  वह संस्कृति और भाषा समझती थी. साथ ही उसके लिए यह भी कहा जाता हैं की वह संस्कृत की एक अच्छी विद्वान् भी थी.

अब आपको बताते हैं इस शादी के पीछे की मुख्य वजह 

वैसे तो हेलिना इतिहास के पन्नों में आज भी एक रहस्य बनी हुई हैं और इस शादी के सम्बन्ध में कोई ऐतिहासिक प्रमाण भी मौजूद नहीं हैं लेकिन कहा जाता हैं की मौर्य और यूनानी संबंधों को मजबूत करने के लिए हेलिना का विवाह चंद्रगुत मौर्य के साथ हुआ था.

मद्रास शहर के नामकरण के पीछे की कहानी?