Dibbi Lingeshwar Swami Mandir कहाँ हैं?

Dibbi Lingeshwar Swami Mandir एक रहस्यमयी और गोपनीय मंदिर जो कि दक्षिण भारत में स्थित है, इसको इतिहास के पन्नों में दबा दिया गया लेकिन इस आर्टिकल के माध्यम से इस मंदिर से संबंधित जानकारी और रहस्य आप जान पाएंगे।

डिब्बी लिंगेश्वर स्वामी मंदिर (राम लिंगेश्वर स्वामी मंदिर) कहां हैं-

Dibbi Lingeshwar Swami Mandir सरिपल्ली गांव, विजयनगरम जिला, आंध्रप्रदेश, भारत में स्थित हैं।

डिब्बी लिंगेश्वर स्वामी मंदिर सरीपल्ली गाँव में स्थित है जो चंपावती नदी के किनारे विजयनगरम शहर से 16 किमी दूर है।

सरिपल्ली गांव के निकट एक छोटी पहाड़ी पर रामलिंगेश्वर स्वामी मंदिर है। इस मन्दिर को राम लिंगेश्वर स्वामी मंदिर के नाम से भी जाना जाता हैं।

 मंदिर का निर्माण-

मंदिर का निर्माण सातवीं और दसवीं शताब्दी के बीच कलिंग द्वारा किया गया था, जिसमें मंदिर की दीवारों पर सुंदर मूर्तियां हैं।

यह माना जाता था कि Dibbi Lingeshwar Swami Mandir देवतों द्वारा बनाया गया था, यह सबसे प्राचीन मंदिरों में से एक था और प्राचीन स्मारकों और पुरातात्विक स्थलों के तहत राष्ट्रीय महत्व का घोषित किया गया है। लेकिन फिर भी आज तक लोगों के अंधविश्वास की वजह से इस रहस्यमयी मंदिर के अंदर लोग नहीं जाते हैं।

यह एक खूबसूरत जगह है जो आम और काजू के खेतों से भरी हुई है।

आपको पहाड़ी पर बौद्ध स्मारकों के कोई निशान नहीं मिलेंगे क्योंकि वे मिट्टी से ढंके हुए थे, रामलिंगेश्वर मंदिर के पुजारी को ईंटें मिलीं जब वह पहाड़ी पर वृक्षारोपण कर रहे थे, उन्होंने अनजाने में इस जगह को खोदा था। इस मंदिर के आस पास और भी बड़ा रहस्यमई इतिहास छुपा पड़ा हो सकता है।

Dibbi Lingeshwar Swami Mandir मंदिर से जुड़ी मिथ्या-

प्राचीन समय से ही यहां पर रहने वाले लोगों की मान्यता है  कि अंदर स्थित शिवलिंग की रक्षा सरपा राजा (सांप राजा) द्वारा की जाती है।

जो कि सत्य है लेकिन दुर्भाग्य से इस कीमती मंदिर में कुछ धार्मिक मान्यताओं की वजह से स्थानीय लोगों द्वारा पूजा नहीं की जाती है। जबकि यह मंदिर कई सदियों पुराना है।

Dibbi Lingeshwar Swami Mandir का निर्माण और कलाकारी देखकर लगता हैं जैसे स्वयं भगवान यहां मौजूद हैं। इस मंदिर के अंदर मौजूद सर्प ने अभी तक किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है।

अगर आप यहां घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आपको यह छोटी जानकारी अवश्य होनी चाहिए,जो आपकी मदद करेगी-

स्थान का नाम: डीब्बी लिंगेश्वर स्वामी मंदिर (रामलिंगेश्वर स्वामी मंदिर)

समय: सुबह 5 बजे से लेकर दिन में 12 बजे तक और शाम को 5 बजे से लेकर – 8 बजे तक आप यहां जा सकते हैं।

विशेष त्यौहार: महा शिवरात्रि और पुरा कार्तिक मास

परिवहन: स्वयं का वाहन सबसे अच्छा विकल्प है या फिर आप विजयनगरम बस द्वारा भी यहां तक पहुंच सकते हैं। शहर से यह 16 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। अगर आप रेल्व

 स्टेशन से जाना चाहते हैं तो भी यह लगभग इतना ही दूर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें :- विश्व का दूसरा ब्रह्मा मंदिर जिसके बारे में बहुत काम लोग जानते हैं