Jagdeep dhankhar Biography

जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography).

Spread the love

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography)- जगदीप धनखड़ भारतीय राजनीतिज्ञ हैं, जगदीप धनखड़ का जन्म राजस्थान के झुंझुनू जिले के छोटे से गांव किठाना में 18 मई 1951 को हुआ था. एन.डी.ए. ने वर्ष 2022 में इन्हें उपराष्ट्रपति का उम्मीदवार घोषित किया.

वर्तमान में जगदीप धनखड़ पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं जिन्हें 30 जुलाई 2019 को पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नियुक्त किया था. 16 जुलाई 2022 को भारतीय जनता पार्टी ने अपने सहयोगी दलों (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) के साथ उपराष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाया गया है. 6 अगस्त 2022 को हुए उपराष्ट्रपति चुनाव में जगदीप धनखड़ को जीत मिली. हम संक्षिप्त में जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography) के साथ साथ उनके राजनैतिक कैरियर की चर्चा करेंगे.

जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography in hindi).

नाम- जगदीप धनखड़.

जन्म तिथि- 18 मई 1951.

पिता का नाम- स्वर्गीय श्री चौ. गोकल चंद जी.

माता का नाम- स्वर्गीय श्रीमती केसरी देवी.

पत्नि का नाम- सुदेश धनखड़.

बेटी का नाम- कामना धनखड़.

भाई बहिन- कुलदीप धनखड़ ,रणदीप धनखड़ और बहिन का नाम इंद्रा जी.

जन्म स्थान- किठाना, झुंझुनू राजस्थान.

शिक्षा- राजस्थान विश्विद्यालय.

व्यवसाय- वरिष्ठ अधिवक्ता और राजनीतिज्ञ.

पेशा- एडवोकेट.

जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography) शुरू होती है इनकी प्रारंभिक शिक्षा के साथ. जगदीप धनखड़ की प्रारंभिक शिक्षा उनके गांव किठाना में हुई जबकि स्कूली शिक्षा की शुरुआत 1962 में सैनिक स्कूल चित्तौड़गढ़ से हुई थी. राजस्थान यूनिवर्सिटी से इन्होंने स्नातक की डिग्री प्राप्त की. सैनिक स्कूल में पढ़ाई पूरी होने के बाद जगदीप धनखड़ जयपुर चले गए और वहां पर प्रतिष्ठित कॉलेज महाराजा कॉलेज में दाखिला लिया. यहीं से इन्होंने फिजिक्स में बीएससी पूर्ण कर ग्रेजुएशन पूरा किया.

वर्ष 1978 में जगदीप धनखड़ ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से एलएलबी की पढ़ाई शुरू की, एलएलबी पूरी होने के बाद इन्होंने वकालत शुरू की. वर्ष 1990 में राजस्थान हाईकोर्ट में ही है वरिष्ठ अधिवक्ता का ओहदा प्राप्त हुआ. जगदीप धनखड़ ने ना सिर्फ राजस्थान में बल्कि देश के कई हाईकोर्ट व सुप्रीम कोर्ट में भी वकालत की जिसके चलते ही हैं एक प्रतिष्ठित अधिवक्ता के रूप में पहचान मिली.

1989-91 में इन्होंने राजनीति में कदम रखा और झुंझुनू लोकसभा क्षेत्र से जनता दल की तरफ से चुनाव लड़ा और पहली बार सांसद बने. जगदीप धनखड़ 1993 से लेकर 1998 तक किशनगढ़ विधानसभा क्षेत्र से आरएलए चुने गए. इतना ही नहीं इस दौरान जगदीप धनखड़ राजस्थान उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रहे.

जगदीप धनखड़ को 30 वर्षों का राजनीतिक अनुभव है. चंद्रशेखर राव की सरकार में जगदीप धनखड़ संसदीय कार्य मंत्री रह चुके हैं. जाट समुदाय से ताल्लुक रखने वाले जगदीप धनखड़ अपनी समाज को आरक्षण दिलाने के लिए भी लड़े.

20 जुलाई 2019 को इन्हें पश्चिम बंगाल का गवर्नर नियुक्त किया गया जबकि पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा 30 जुलाई 2019 को उन्हें पश्चिम बंगाल का राज्यपाल नियुक्त किया गया.

जगदीप धनखड़ का केरियर संक्षिप्त में (Jagdeep dhankhar Biography)

जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography) में उनके बचपन से लेकर अब तक जिन महत्वपूर्ण पदों पर रहे और जो मुख्य कार्य किए हैं के साथ साथ उनका व्यक्तिगत जीवन भी शामिल हैं.

वर्ष 1979 में राजस्थान बार काउंसिल में अधिवक्ता.

वर्ष 1987 में राजस्थान उच्च न्यायालय के बार एसोसिएशन जयपुर के अध्यक्ष बने.

वर्ष 1988 में राजस्थान बार काउंसिल के निर्वाचित सदस्य.

वर्ष 1989 में झुंझुनू संसदीय क्षेत्र से लोकसभा सदस्य चुने गए.

वर्ष 1990 में एक संसदीय समिति के चेयरमैन चुने गए.

वर्ष 1990 में चंद्रशेखर राव की सरकार में मंत्री बने.

वर्ष 1990 में राजस्थान हाईकोर्ट में वरिष्ठ अधिवक्ता.

वर्ष 1993 में किशनगढ़ (अजमेर) से राजस्थान विधानसभा के सदस्य चुने गए.

जगदीप धनखड़ का परिवार

जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography) पढ़ने से ज्ञात होता हैं कि जगदीप धनखड़ जाट परिवार से हैं. इनके पिता का नाम चौधरी गोकल चंद और माता का नाम केसरी देवी हैं. आपको बता दें कि इनके माता-पिता का देहांत हो चुका हैं. जगदीप धनखड़ के बड़े भाई का नाम कुलदीप धनखड़ हैं.

इनके परिवार में चार भाई-बहन हैं, इनके छोटे भाई का नाम रणदीप धनखड़ और बहिन का नाम इंद्रा हैं.

जगदीप धनखड़ की बेटी कामना धनखड़

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की बेटी का नाम कामना धनखड़ हैं, उनके कोई बेटा नहीं है. जगदीप धनखड़ की बेटी ने MGD स्कूल जयपुर से पढ़ाई करने बाद USA के बीवर कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की. इनकी बेटी का विवाह कार्तिकेय वाजपेयी से हुई.

जगदीप धनखड़ की बेटी के पति कार्तिकेय वर्तमान में सर्वोच्च न्यायालय में वकील हैं. 14 अगस्त 2015 को जगदीप धनखड़ की बेटी कामना धनखड़ ने एक पुत्र को जन्म दिया जिसका नाम कविश है.

(Jagdeep dhankhar Biography)जगदीप धनखड़ से सम्बन्धित बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न (Jagdeep dhankhad jivani )(Jagdeep dhankhar Biography)जगदीप धनखड़ से सम्बन्धित बार बार पूछे जाने वाले प्रश्न (Jagdeep dhankhad jivani )

जगदीप धनखड़ कौन है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं साथ ही भारत के उपराष्ट्रपति है.

2. जगदीप धनखड़ की बेटी का नाम क्या है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ की बेटी का नाम कामना धनखड़ है.

3. जगदीप धनखड़ की पत्नी का नाम क्या है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ की पत्नी का नाम सुदेश धनखड़ है.

4. जगदीप धनखड़ की पत्नी क्या करती है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ की पत्नी ग्रहणी है, उन्होंने अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की पढ़ाई की हुई है.

5. जगदीप धनखड़ के कितने भाई बहन हैं?

उत्तर- जगदीप धनखड़ के तीन भाई बहन हैं बड़ा भाई कुलदीप धनखड़, छोटा भाई रणदीप धनखड़ और बहन का नाम इंदिरा धनखड़ है.

6. जगदीप धनखड़ की जाति और धर्म क्या है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ की जाति जाट है और वह हिंदू धर्म को मानते हैं.

7. जगदीप धनखड़ ने कहां तक पढ़ाई की है?

उत्तर- जगदीप धनखड़ ने बीएससी ऑनर्स और एलएलबी की है.

यह भी पढ़ें-

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की जीवनी.

श्रील प्रभुपाद की जीवनी.

इस लेख में आपने भारत के नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography in hindi) पढ़ी, उम्मीद करते हैं यह लेख आपको अच्छा लगा होगा धन्यवाद.


Spread the love

1 thought on “जगदीप धनखड़ की जीवनी (Jagdeep dhankhar Biography).”

  1. Pingback: द्रौपदी मुर्मू जीवनी (Draupadi murmu jivani) और 13 रोचक तथ्य। - History in Hindi

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *