Dhoni बैटिंग क्यों नहीं कर पा रहे हैं, कोच माइकल हसी ने बताया कारण

आईपीएल में अब तक चेन्नई सुपर किंग्स की टीम दो मैच खेल चुकी है और दोनों ही मैचों में उसने जीत दर्ज की है लेकिन अब तक धोनी के फैन उनकी बल्लेबाजी नहीं देख पाए हैं.

दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है कि महेंद्र सिंह धोनी बैट लेकर मैदान में उतरे और उनके बल्ले से लंबे-लंबे छक्के देखने को मिले लेकिन अभी तक आईपीएल के एक भी मैच में महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी नहीं आई है और तो और गुजरात और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेले गए मैच में दर्शकों को उम्मीद थी कि आज महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी जरूर आएगी लेकिन इस मैच में भी उनसे पहले समीर रिजवी को भेजा गया जिससे दर्शक हताश हो गए.

क्या जानबूझकर महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी नहीं करने आ रहे हैं या ऐसी कोई समस्या है जिनके चलते वह बल्लेबाजी नहीं कर पा रहे हैं? आईए जानते हैं.


बैटिंग कोच माइकल हसी ने बताया कारण

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज माइकल हसी अभी चेन्नई सुपर किंग्स के बैटिंग कोच हैं और न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान और विस्फोटक बल्लेबाज स्टीफन फ्लेमिंग मुख्य कोच है.

माइकल हसी ने बताया कि पिछले साल से “इंपैक्ट प्लेयर नियम” आने की वजह से चेन्नई सुपर किंग्स का बल्लेबाजी क्रम लंबा हो गया है. जिसके चलते महेंद्र सिंह धोनी को आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करनी पड़ेगी. अभी तक चेन्नई सुपर किंग्स ने इतनी विकट नहीं खोई हैं कि आठवें नंबर के बल्लेबाज को बल्लेबाजी करने की जरूरत पड़े.

चेन्नई सुपर किंग्स का बैटिंग क्रम लंबा होने की वजह से शुरुआती बल्लेबाज विस्फोटक अंदाज में बल्लेबाजी करते हैं, तेज गति से रन बनाते हैं जो चेन्नई के लिए फायदे का सौदा है. 

अगर महेंद्र सिंह धोनी के बल्लेबाजी भी आती है तो वह नेट में अच्छी बल्लेबाजी करते हैं और विस्फोटक अंदाज में अंतिम ओवर में चौके-छक्के मार सकते हैं. यह चेन्नई के हित में है.

चेन्नई सुपर किंग्स के हित को ध्यान में रखते हुए और मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग और माइकल हसी के आदेश की पालना करते हुए महेंद्र सिंह धोनी आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए राजी हो गए हैं. ऐसे में उनकी बल्लेबाजी नहीं आना टीम प्लानिंग का हिस्सा है.