निर्जला एकादशी व्रत कथा और महत्त्व 2024

निर्जला एकादशी व्रत कथा और महत्त्व

निर्जला एकादशी का व्रत प्रतिवर्ष जेष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की ग्यारस या एकादशी को रखा जाता हैं. यह मई-जून माह में आती हैं. निर्जला एकादशी का व्रत गंगा दशहरा के एक दिन बाद में रखा जाता हैं लेकिन कभी-कभी ये दोनों एक ही दिन आ जाते हैं. वर्ष 2023 में गंगा दशहरा 30 मई … Read more