“इतिहास का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध”(Vishv ka Sabse shantipurn Yudh)- जो 37 वर्षों से चला आ रहा हैं.

Vishv ka Sabse shantipurn Yudh कौनसा है और किन देशों के मध्य लड़ा गया,यह प्रश्न ही अपने आप में हैरत करने वाला है। विश्व इतिहास कई भयंकर और क्रुर युद्धों से भरा पड़ा है लेकीन क्या आप जानते हैं कि “विश्व का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध” कौनसा है?

अब आप सोच रहे होंगे कि भला युद्ध कैसे शांतिपूर्ण हो सकता हैं तो आपको बता दें कि पिछले 37 वर्षों से कनाडा और डेनमार्क के बिच एक छोटे से द्वीप को लेकर युद्ध छिड़ा हुआ है जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे या अभी तक कोई नहीं।

Vishv ka Sabse shantipurn Yudh."इतिहास का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध"(Vishv ka Sabse shantipurn Yudh)- जो 37 वर्षों से चला आ रहा हैं.
Vishv ka Sabse shantipurn Yudh

विश्व का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध (Vishv ka Sabse shantipurn Yudh)-

कनाडा और डेनमार्क के बिच वर्ष 1984 से चला आ रहा एक युद्ध जिसे विश्व का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध (Vishv ka Sabse shantipurn Yudh) माना जाता हैं। यह युद्ध कनाडा और डेनमार्क के मध्य स्थित “हंस द्वीप” नामक जगह के लिए लड़ा जा रहा हैं।

एक द्वीप किसी भी तरह से महत्व का नहीं है लेकिन बस बात सम्मान पर आ गई। विश्व के सबसे शांतिपूर्ण युद्ध (Vishv ka Sabse shantipurn Yudh) में अभी तक एक भी गोली नहीं चली और ना ही हाथपाई हुई हैं।

डेनमार्क और कनाडा दोनों ही देश दावा करते आए हैं कि यह द्वीप उनका हैं। इतना ही नहीं इस द्वीप पर दोनों देश अपने-अपने राष्टीय ध्वज फहराते हैं। आश्चर्य की बात तो यह है कि इनमें से कोई भी इसका विरोध तक नहीं करते।

विस्की देकर करते हैं सेना का सम्मान

विश्व के सबसे शांतिपूर्ण युद्ध (Vishv ka Sabse shantipurn Yudh) के बारे में यह जानकर आपको आश्चर्य होगा कि दोनों देश एक दुसरे का मान सम्मान करने के लिए साथ में विस्की की बोतल लेकर आते हैं।

डेनमार्क की सेना कनाडा के सैनिकों के लिए डैनिश शराब की बोतल हंस द्वीप पर छोड़ जाते हैं। जब भी कनाडा के सैनिक आते हैं उन्हें यह मिल जाती हैं।
वहीं दूसरी तरफ कनाडाई सैनिक विस्की की बोतल डैनिश आर्मी के लिए छोड़ जाते हैं।

दोनों देशों द्वारा इस द्वीप से कब्ज़ा छोड़ने का आग्रह किया जाता है।

यह भी पढ़ें-

ईसा पूर्व और ईस्वी में क्या अन्तर होता हैं?

“विश्व का सबसे शांतिपूर्ण युद्ध” (Vishv ka Sabse shantipurn Yudh) के बारे में जानकर आपको कैसा लगा कमेंट करके बताएं साथ ही अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, धन्यवाद।

Leave a Comment