13 टिप्स से जानें हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें?

History preparation tips For History Exam- हिस्ट्री की तैयारी करना बहुत आसान है बशर्तें इसको पढ़ने और याद करने का तरीका आपको सही आता हो. इतिहास विषय में हजारों वर्षों के कालक्रम और घटनाओं को याद रखना थोड़ा मुश्किल होता हैं. विद्यार्थी या इतिहास में रुचि रखने वाले लोगों के लिए यह एक बहुत ही दिलचस्प विषय हैं. विभिन्न परीक्षाओं के लिहाज से जो इतिहास पढ़ना चाहते हैं या हिस्ट्री की तैयारी करना चाहते हैं उन्हें कुछ ऐसे ट्रिक्स पता होना चाहिए जिससे हिस्ट्री की तैयारी करने में आसानी रहे.

हिस्ट्री की तैयारी करना ज्यादातर लोगों के लिए कठिन होता हैं क्योंकि वो इसे रटकर याद करने की कोशिश करते हैं. इतिहास बहुत बड़ा विषय हैं जिसके कारण इसका रट कर याद करना मुश्किल है. सही तरीके से हिस्ट्री की तैयारी करके और पढ़कर इसको आसान बनाया जा सकता हैं. इस लेख में हम “हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें” टॉपिक को पढ़ेंगे ताकि विद्यार्थीयों के लिए इतिहास की तैयारी करना आसान हो जाए.

हिस्ट्री की तैयारी या हिस्ट्री एग्जाम की तैयारी (History preparation tips)

Exams की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी करने की कला बहुत महत्त्वपूर्ण है ताकि सामान्य रूप से इतिहास विषय की परिक्षाउपयोगी तैयारी हो सके. इतिहास के एग्जाम की तैयारी करने के लिए निम्नलिखित बिंदुओं पर अमल करके इस विषय को अच्छे तरीके से पढ़ा और याद किया जा सकता हैं.

हिस्ट्री की तैयारी करते समय जानकारी याद रखने का तरीका (History preparation tips)

[1] टॉपिक को कहानी के रूप में जानें

हमारा दिमाग किस्सों और कहानियों को बहुत ही आसानी के साथ याद रख पाता है. हम जिस भी ऐतिहासिक घटना या टॉपिक के बारे में पढ़ रहे हैं उसे एक कहानी के स्वरूप में पढ़ना चाहिए ताकि वह याद हो जाए. जब एक बार कोई भी घटना या किस्सा हमें याद हो जाता है तो उसके संबंध में पात्रों के नाम और तिथि याद करना भी आसान हो जाता है. जो लोग या विद्यार्थी यह नहीं समझ पाते हैं कि हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें तो इस बिंदु को अमल में लाना चाहिए.

[2] ऐतिहासिक फिल्में और सीरियल

कई ऐतिहासिक नायकों पर भारत में मूवीज और सीरियल बन चुके हैं. उन्हें देखने से उन नायकों के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होती है साथ ही कहानी के रूप में याद रखने में आसानी रहती है. अतः जो लोग इतिहास जैसे विस्तृत विषय को पढ़ना चाहते हैं वह ऐतिहासिक फिल्में और सीरियल देख कर अपने ज्ञान में वृद्धि कर सकते हैं.

[3] आत्मकथा या जीवनी

प्राचीन शासकों के संबंध में उनकी जीवनी या आत्मकथा को पढ़कर विद्यार्थी या अन्य लोग उनके संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. क्योंकि किसी के भी संबंध में लिखी गई आत्मकथा या जीवनी पढ़ने में बहुत ही रोचक लगती है. जब एक बार किसी की आत्मकथा या जीवनी के बारे में पढ़ना शुरू करते हैं तो उसमें दिलचस्पी बढ़ती है और इसी वजह के चलते हम किसी भी ऐतिहासिक घटना या शासक के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारियों को याद रख सकते हैं.

[4] ऐतिहासिक स्मारकों का भ्रमण

किसी भी व्यक्ति वस्तु या स्थान के इतिहास से संबंधित स्मारक और म्यूजियम बने हुए हैं. जिनका भ्रमण करने से उन विशेष ऐतिहासिक स्थानों के बारे में विस्तृत और सटीक जानकारी प्राप्त होती है. जब कोई भी विद्यार्थी व्यक्तिगत रूप से इन स्मारकों को देखने के लिए जाते हैं तो इनके संबंध में अधिक जानकारी भी प्राप्त करते हैं और याद रखने में भी सुविधा होती हैं. हिस्ट्री की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों के लिए यह बहुत फायदेमंद रहता है.

[5] सांस्कृतिक कार्यक्रम और प्रदर्शनी

प्राचीन काल से संबंधित विभिन्न घटनाओं पर समय-समय पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है. जिनके माध्यम से हम अपनी कला और संस्कृति के साथ-साथ इतिहास को भी जान सकते हैं. किसी भी देश, स्थान या व्यक्ति विशेष के इतिहास को जानने का यह बहुत ही आसान तरीका है. संस्कृति और इतिहास से संबंधित कई प्रदर्शनीयों का आयोजन भी किया जाता है, हिस्ट्री एग्जाम की तैयारी करने वाले विद्यार्थी इन प्रदर्शनीयों में भाग लेकर अपने ज्ञान को और बढ़ा सकते हैं.

[6] बुजुर्गों से पूछकर

छोटे बच्चों को अक्सर अपने दादा-दादी या नाना-नानी से कई कहानियां सुनने को मिलती हैं जो जीवन भर याद रहती है. प्रथम विश्वयुद्ध, द्वितीय विश्वयुद्ध, जलियांवाला बाग हत्याकांड, भारत की आजादी से संबंधित आंदोलन और महात्मा गांधी से लेकर भारत पाकिस्तान युद्ध और भारत-बांग्लादेश युद्ध के संबंध में बुजुर्ग अच्छी तरह से जानकारी रखते हैं. अतः यदि ऐसे लोग आपके आसपास मौजूद हैं तो उन्हें पूछ कर इतिहास की इन महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त की जा सकती है. जो विद्यार्थियों के लिए हिस्ट्री एग्जाम की तैयारी करने में बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगी.

एग्जाम में हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें के संबंध में उपरोक्त बिंदु हमें किसी भी ऐतिहासिक घटना, शासक या स्मारक के संबंध में मोटी मोटी जानकारी प्राप्त करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण बिंदु हैं, लेकिन हम कई तरह के ऐतिहासिक तथ्यों, घटनाओं, तिथियों और शासकों और व्यक्ति विशेष का नाम याद रखना चाहते हैं तो उसके लिए थोड़ा तरीका अलग है. जिसे हम इसी लेख में आगे पढ़ेंगे ताकि जो विद्यार्थी एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं और हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें के बारे में विस्तृत जानकारी चाहते हैं उनके लिए यह बिंदु उपयोगी साबित होंगे.

एग्जाम में हिस्ट्री की तैयारी और महत्त्वपूर्ण घटना को याद रखने का तरीका (History preparation tips)

[1] फ्लैशकार्ड का उपयोग 

फ़्लैशकार्ड एग्जाम की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. फ्लैश कार्ड की मदद से हम विभिन्न घटनाओं, नामों, तिथियों और अन्य महत्वपूर्ण तथ्यों को आसानी के साथ याद कर सकते हैं. फ्लैशकार्ड में किसी व्यक्ति या स्थान का नाम और उसके सामने वाले कॉलम में तिथि अंकित कर आप आसानी के साथ याद रख सकते हैं. 

[2] सूचियां बनाकर

विभिन्न घटनाओं की सूची बनाकर उन घटनाओं और उनकी तिथि की सूची बना लें. उस सूची को अपने अध्ययन कक्ष में टांग दे ताकि समय समय पर आंखों के सामने आने से चीजें याद रहने लगती हैं. इस प्रकार की सूचियां बनाते समय आप शिक्षक की मदद ले सकते हैं.

[3] स्वयं नोट्स बनाए

एग्जाम में हिस्ट्री की तैयारी करते समय यदि हम स्वयं द्वारा बनाए गए नोट्स का उपयोग करते हैं तो किसी भी जानकारी या तिथि को बहुत ही आसानी के साथ याद रख सकते हैं. स्वयं द्वारा नोट्स बनाते समय हम किसी भी घटना, तिथि या तथ्यों को महत्वपूर्ण मानकर अपने नोट्स में शामिल करते हैं जिससे वह टॉपिक बहुत ही आसानी के साथ याद रहता हैं.

[4] बोल कर पढ़ना

जब हम किसी भी जानकारी या नोट्स को बोलकर पढ़ते हैं तो एक ही समय में हम उसे देखते भी हैं और सुनते भी हैं, जिससे वह मस्तिष्क पर गहरी छाप छोड़ती हैं और हमारा मस्तिष्क उसे लंबे समय तक याद रख सकता है.

[5] ऑडियो रिकॉर्डिंग

वर्तमान में किसी भी विषय के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के लिए ऑडियो बहुत प्रचलन में हैं. हमारे द्वारा निर्मित नोट्स को हम ऑडियो में रिकॉर्डिंग करके सुन सकते हैं. इससे यह फायदा होगा कि हमारे द्वारा निर्मित नोट्स हमारी ही आवाज में जब हम सुनेंगे तो यह जल्दी याद हो जाएगा. एग्जाम की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी करने का यह बहुत ही आसान तरीका है.

एग्जाम की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी करने का सबसे अच्छा तरीका (Best History preparation tips)

एग्जाम की दृष्टि से हिस्ट्री को कालखंडों में बांटकर अध्ययन करना ज्यादा आसान रहता है ताकि विभिन्न परीक्षाओं की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी अच्छी तरह से कर सकें. और यह इतिहास को याद रखने का एक बेहतरीन तरीका भी है. इस हिसाब से हम इतिहास को तीन भागों में बांट कर उसका अध्ययन कर सकते हैं.

[1] प्राचीन काल (आदिमानव युग से लेकर 750 AD)

एग्जाम के दृष्टिकोण से हिस्ट्री की तैयारी करते समय इतिहास को तीन भागों में बांटा जाता है. इसमें आदिमानव युग से लेकर 750 AD तक के समय को शामिल किया जाता हैं. आप हिस्ट्री की तैयारी कर रहे हैं तो तिथि के अनुसार क्रमिक रूप से प्राचीनकालीन इतिहास को आसानी के साथ याद कर सकते हैं.

[2] मध्यकाल ( 750 AD से 1707 ईस्वी तक)

मध्यकालीन भारत का इतिहास लगभग 1000 वर्षों का माना जाता है जिसकी कालगणना 750 ईसवी से लेकर 1707 ईसवी तक मानी जाती हैं. मध्यकालीन भारत के इतिहास को आप क्रमिक रूप से याद करके परीक्षा की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी अच्छी तरह से कर सकते हैं.

[3] आधुनिक काल (1707 ईस्वी से 1947 तक)

1707 ईस्वी से लेकर 1947 तक के काल का इतिहास भारत में आधुनिक इतिहास माना जाता है. इसका भी आप क्रमिक रूप से अध्ययन करके इतिहास को बेहतरीन तरीके से समझ सकते हैं.

अतः इतिहास के जो भी विद्यार्थी इतिहास के संबंध में गहरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या एग्जाम की दृष्टि से हिस्ट्री की तैयारी करना चाहते हैं वह इतिहास को उपरोक्त तीन भागों में बांट कर गहन अध्ययन कर सकते हैं. इससे किसी भी व्यक्ति, वस्तु, स्थान या तिथि के संबंध में संपूर्ण जानकारी याद रहेगी.

हिस्ट्री ट्रिक्स (History preparation tips & Tricks)

किसी भी टॉपिक या महत्वपूर्ण बिंदुओं को याद रखने की विभिन्न ट्रिक्स होती हैं. जिनका सहारा लेकर हम मुश्किल से मुश्किल टॉपिक को भी आसानी के साथ याद रख सकते हैं. हिस्ट्री की तैयारी करते समय आप अपने अनुसार ट्रिक्स बनाए ताकि वह आपको आसानी से याद हो सके.

स्वयं द्वारा बनाई गई ट्रिक्स से हम किसी भी टॉपिक या बिंदु को बहुत ही आसान तरीके से लंबे समय तक याद रख पाते हैं. जिन विद्यार्थियों को एग्जाम से पहले यह चिंता रहती है कि एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाने के लिए हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें तो उन्हें स्वयं द्वारा ट्रिक्स बनाकर पढ़ना चाहिए.

यह भी पढ़ें-

मौर्यकाल सामान्य ज्ञान।

शुंगवंश सामान्य ज्ञान।

दोस्तों उम्मीद करते हैं हिस्ट्री की तैयारी या हिस्ट्री एग्जाम की तैयारी (History preparation tips) के सम्बन्ध में यह लेख आपको अच्छा लगा होगा, धन्यवाद।

2 thoughts on “13 टिप्स से जानें हिस्ट्री की तैयारी कैसे करें?”

Leave a Comment